शर्मनाक: गरीबी और आर्थिक तंगी परेशान परिवार ने एक ही चिता पर किया तीन सगी बहनों का अंतिम संस्कार, ट्रेन के आगे कूदकर दी थी जान

 


जौनपुर के बदलापुर क्षेत्र में आर्थिक तंगी से परेशान होकर तीन सगी बहनों ने ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी थी। शनिवार को तीनों का अंतिम संस्कार एक ही चिता पर किया गया। कोई भी जनप्रतिनिधि पीड़ित परिवार का सुध लेने नहीं पहुंचा।यूपी के जौनपुर जिले में ट्रेन के आगे कूदकर खुदकुशी करने वाली तीन सगी बहनों का अंतिम संस्कार शनिवार को रामघाट पर किया गया। दाने-दाने के लिए मोहताज परिवार के पास दाह संस्कार तक के लिए पैसा नहीं था। इतना ही नहीं, जिम्मेदारों ने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया। आखिर में रिश्तेदारों की मदद से एक ही चिता पर तीनों का शव रखकर अंतिम संस्कार किया गया। भाई गणेश ने मुखाग्नि दी तो मौजूद रिश्तेदारों की आंखें नम हो गई।

महराजगंज थाना क्षेत्र के अहिरौली गांव निवासी निवासी प्रिती (16), आरती (14) और काजल (11) ने बदलापुर थाना क्षेत्र के फत्तूपुर रेलवे क्रासिंग पर गुरुवार रात ट्रेन के आगे कूदकर शुदकुशी कर ली थी। शुक्रवार रात ही शवों का पोस्टमार्टम हो गया। गरीबी का आलम ये रहा कि परिजनों के पास घर शव ले जाने का पैसा नहीं था।

परिवार से जुड़े लोगों के मुताबिक रिश्तेदारों की मदद से 600 रुपये में एक एंबुलेस किया गया और शव को रामघाट ले जाया गया। जहां रिश्तेदारों ने लकड़ी की व्यवस्था की और एक ही चिता पर तीनों सगी बहनों का अंतिम संस्कार किया गया।

Popular posts from this blog

शुजालपुर *कुर्सी तोड़ टी.आई रतन लाल परमार ऐसा काम ना करो ईमानदार एस.पी को बदनाम ना करो*

फल ठेले बाले ने नपा सीएमओ पर बरसाए थप्पड़, कर्मचारियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा वीडियो वायरल

ट्रांसफर नीति पर अपने ही नियम तोड़ रहा एनएचएम ऑनलाइन की जगह ऑफलाइन किए कम्नूटी हेल्थ ऑफिसर के ट्रांसफर