BJP को लगा तगड़ा झटका: कांग्रेस में शामिल हुए सांसद अजय निषाद

 


लोकसभा चुनाव के पहले बिहार में भाजपा को झटके पर झटका; टिकट पक्का देख कांग्रेस में आ रहे भाजपाई.

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में BJP को तगड़ा झटका लगा है. मुजफ्फरपुर से बीजेपी सांसद अजय निषाद कांग्रेस में शामिल हो गए हैं. बीजेपी सांसद अजय निषाद ने आज मंगलवार 02 अप्रैल को कांग्रेस का हाथ पकड़ लिया हैं. बता दें कि इस बार टिकट कटने से वे बीजेपी से नाराज चल रहे थे.

अजय निषाद ने कांग्रेस की सदस्यता लेते हुए कहा, मेरा टिकट काटा गया और मुझे बताया भी नहीं गया. मुझे TV से टिकट कटने के बारे में जानकारी मिली. मुझे भी किसी का अहंकार तोड़ना है और अपना खोया हुआ सम्मान वापस लाना है. उसके बाद एक्स पर पोस्ट करते हुए अजय निषाद ने लिखा, आज @INCIndia की सदस्यता ग्रहण की है अगर आलाकमान का आदेश हुआ तो जनता के अदालत में आऊँगा

लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा प्रत्याशी अजय कुमार निषाद सबसे ज्यादा वोट पाने वाले सांसद बने थे. अजय कुमार निषाद को 666878 वोट मिले थे तो उनके प्रतिद्वद्वी विकासशील इंसान पार्टी के राज भूषण चौधरी को महज 256890 वोट ही मिल पाए थे. इस तरह अजय निषाद ने राज भूषण चौधरी को एक तरफा मुकाबले में 409988 वोटों से हराया था.       

बता दें कि बीजेपी ने इस बार मुजफ्फरपुर से सिटिंग सांसद अजय निषाद का टिकट काटकर राज भूषण निषाद को मैदान में उतारा है. टिकट कटने के बाद से सांसद अजय निषाद काफी नाराज बताए जा रहे हैं. अजय निषाद का टिकट कटने के बाद से उनके समर्थकों में भी काफी आक्रोश देखने को मिल रहा है. जानकारी के मुताबिक, अजय निषाद ने हाल ही में अपने कार्यकर्ताओं के साथ एक बैठक करके आगामी चुनाव को लेकर चर्चा की थी, जिसके बाद से उनके महागठबंधन में जाने की अटकलें लगाई जा रही थीं. अब अजय निषाद ने कांग्रेस का दामन थाम लिया हैं.  

कांग्रेस नेता पवन खेड़ा और बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह ने अजय कुमार निषाद को पार्टी में शामिल कराया. माना जा रहा है कि कांग्रेस मुजफ्फरपुर सीट से अजय कुमार निषाद पर दांव लगा सकती है.  

Comments

Popular posts from this blog

शुजालपुर *कुर्सी तोड़ टी.आई रतन लाल परमार ऐसा काम ना करो ईमानदार एस.पी को बदनाम ना करो*

फल ठेले बाले ने नपा सीएमओ पर बरसाए थप्पड़, कर्मचारियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा वीडियो वायरल

ट्रांसफर नीति पर अपने ही नियम तोड़ रहा एनएचएम ऑनलाइन की जगह ऑफलाइन किए कम्नूटी हेल्थ ऑफिसर के ट्रांसफर